Nature Nature

*चैटबाँट से जुड़ने के लिए 9650414141 वाट्सएप नंबर पर Hi लिखकर भेजना होगा- गोपाल राय*

0 13
इस न्यूज़ को सुनने के लिए क्लिक करे

पर्यावरण साथी चैटबॉट से जुड़ने के लिए 9650414141 वाट्सएप नंबर पर Hi  लिखकर भेजना होगा- गोपाल राय

*- दिल्ली में प्रदूषण के खिलाफ लड़ाई में सहभागी बनने के लिए चैटबॉट के माध्यम से युवाओं को सक्रिय किया जाएगा- गोपाल राय

*- पर्यावरण साथी बन कर काम करने वाले युवाओं को नंबर दिए जाएंगे और सबसे अधिक नंबर पाने वाले 100 युवाओं सम्मानित किया जाएगा- गोपाल राय

नई दिल्ली, 28 अक्टूबर, 2021

दिल्ली में वायु प्रदूषण के खिलाफ केजरीवाल सरकार की लड़ाई में अब युवा साथी बन कर सहयोग करेंगे। दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने युवाओं को अभियान से जोड़ने के लिए आज दिल्ली सचिवालय में ‘पर्यावरण साथी चैटबाँट’ लांच किया। पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि यूनिसेफ के सहयोग से चैटबाँट लांच गया है। इस चैटबाट से देश भर के 10 लाख युवा जुड़े हैं, जिसमें 50 हजार युवा दिल्ली के हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली में प्रदूषण के खिलाफ लड़ाई में सहभागी बनने के लिए चैटबाँट के माध्यम से युवाओं को सक्रिय किया जाएगा। इस चैटबाट से जुड़ने के लिए 9650414141 वाट्सएप नंबर पर Hi  लिखकर भेजना होगा। पर्यावरण साथी बन कर काम करने वाले युवाओं को नंबर दिए जाएंगे और सबसे अधिक नंबर पाने वाले 100 युवाओं सम्मानित किया जाएगा।

*चैटबाँट के माध्यम से ‘युद्ध, प्रदूषण के विरुद्ध’ अभियान में सहयोगी बन सकते हैं युवा- गोपाल राय

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय आज दिल्ली सचिवालय के वॉर रूम में ‘पर्यावरण साथी चैटबॉट’ को लांच किया। यह चैटबाँट यूनिसेफ एवं युवा के सहयोग से लांच किया गया। इस संबंध में पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली सरकार की तरफ से दिल्ली के अंदर प्रदूषण के खिलाफ कई अभियान चल रहा है। हमने इस अभियान में दिल्ली सरकार के अलग-अलग विभागों, एमसीडी, डीडीए समेत सभी विभागों को एक साथ जोड़कर लड़ाई को आगे बढ़ाने का काम शुरू किया है। इसके दूसरे चरण में दिल्ली में धूल प्रदूषण को रोकने के लिए सभी प्राइवेट निर्माण एजेंसियों भी इस मुहिम से जोड़ने की कोशिश की। तीसरे चरण में हमने दिल्ली के अंदर आरडब्ल्यूए, मार्केट एसोसिएशंस और समाजिक संगठनों को भी इस मुहिम में जोड़ने के लिए अभियान तेज किया। आज इसी कड़ी में दिल्ली के युवा कैसे ‘युद्ध, प्रदूषण के विरुद्ध’ अभियान में सहयोगी और साथी बन सकते हैं, इसके लिए हम लोग यूनिसेफ की युवा टीम के साथ मिलकर ‘पर्यावरण साथी चैटबाँट’ लांच किया है। चैटबाट लांच करने का मकसद वाट्सएप से जुड़े युवाओं को, जो सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर सक्रिय रहते हैं, उनको को भी प्रदूषण के खिलाफ लड़ाई में हिस्सेदार और साथी बनाना है।

चैटबाँट से जुड़ने के लिए 9650414141 वाट्सएप नंबर पर Hi लिखकर भेजना होगा- गोपाल राय*

पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि यूनिसेफ की युवा टीम ने पहले से ही अलग-अलग सोशल गतिविधियों के लिए इस चैटबाँट पर लगभग 10 लाख युवाओं को जोड़ा हुआ है। दिल्ली में रहने वाले करीब 50 हजार युवा इस चैटबाट से जुडे हुए हैं। उन युवाओं को कैसे इस प्रदूषण की लड़ाई में सहयोगी और साथी बनाने के लिए यह चैटबाँट लांच किया गया है। इस चैटबाँट से युवाओं के साथ वरिष्ठ व्यक्ति भी जुड़ सकते हैं। इस चैटबाट से जुड़ने के लिए 9650414141 वाट्सएप नंबर पर Hi लिखकर भेजना होगा और इसके बाद आप चैटबाँट से बातचीत करने के लिए जुड़ जाएंगे। दिल्ली प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए सरकार के स्तर पर हम काम कर रहे हैं। जिसमें एंटी डस्ट, रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ, पराली को गलाने के लिए बायो डि-कंपोजर के घोल का छिड़काव और ‘पटाखे नहीं, दीया जलाएं’ आदि कैंपेन शामिल हैं। लेकिन मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी ने दिल्ली के लोगों से जो अपील किया है कि चूंकि हम मिलकर प्रदूषण को पैदा करते हैं, जो हमें मिलकर इस प्रदूषण के खिलाफ लड़ना पड़ेगा। उसके लिए इस चैटबाँट के माध्यम से युवाओ को सक्रिय करेंगे।


*पर्यावरण साथी चैटबॉट के मुख्य बिन्दु –

– पर्यावरण साथी चैटबॉट दिल्ली सरकार व यूनिसेफ की युवा टीम के साथ साझेदारी से लांच किया गया है।
– दिल्ली के लाखो युवा यूनिसेफ की युवा टीम के कार्यक्रमों से पहले से ही जुड़े हुए है और अब पर्यावरण साथी चैटबॉट के माध्यम से दिल्ली के ‘युद्ध, प्रदूषण के विरुद्ध’ में अपना योगदान दे सकेंगे।
– चैटबॉट पर 9650414141 नंबर पर एक मैसेज भेज कर कोई भी दिल्ली का युवा चैटबॉट से बातचीत करने लगेगा।
– चैटबॉट में युवाओं के लिए कई सारे टास्क निर्धारित है, जिनके सफल समापन पर युवाओं को पॉइंट्स दिए जाएंगे।
– युवा ग्रीन दिल्ली एप्प डाउनलोड करे व प्रदूषण की शिकायत दर्ज करे।
– गाड़ी के बदले बस या मेट्रो से यात्रा करें और चैटबाट के जरिए हमें बताएं।
– अपने आसपास के घरों मे डोर टू डोर कैम्पेन कर के लोगों को जागरूक करें और उन्हें समझाएं।
– अपने आस पास नुक्कड़ नाटक या दीवारों पर पेंटिंग कर के लोगों को जागरूक करें।
– युवाओं को उनकी गतिविधियों के लिए प्रमाण पत्र से भी सम्मानित किया जाएगा और साल के अंत मे जो 100 युवा सबसे ज्यादा पॉइंट्स लेकर आगे रहेंगे, उन्हें सम्मानित किया जाएगा।

Nature Nature